Monday, 21 April 2014

2015 से मिलने लगेगी उड़ने वाली कार!!

शशांक द्विवेदी 
आखिरकार फ्लाइंगे वाली कार आ ही गई? जैसा की साइंस फिक्शन फिल्मों में देखा जाता है ठीक उसी तरह की फ्लाइंगे वाली का सपना तकरीबन पूरा हो गया है। अगले दो साल यानी 2015 तक इस फ्लाइंग कार की बिक्री भी शुरू कर दी जाएगी। इस कार में यह भी खूबी है कि सड़क पर चलते वक्त अगर कभी ट्रैफिक जाम में फंसने की नौबत आ जाती है तो यह कार साइड से भी उड़ान भर सकती है। जानकारी के अनुसार एक लाख 90 हजार पौंड कीमत की यह फ्लाइंग कार 2015 से बाजार में बिक्री के लिए उपलब्ध हो सकती है। इसे बनाने वाले का कहना है कि इस फ्लाइंग कार का दूसरा टीएफ-एक्स मॉडल, जो कि खड़ी हुई पोजिशन में भी वर्टिकली उड़ान भर सकता है, को भी बाजार में उतार दिए जाने की योजना है।
अमेरिका में मैसाचुसेट्स के प्राइवेट जेट बनाने वाली कंपनी टैराफूजिया ने इस फ्लाइंग कार को डिजाइन किया है। यह एक सेडान कार और कुछ प्राइवेट जेट का हिस्सा है। इस फ्लाइंग कार में दो लोगों के बैठने की जगह है। इसमें चार पहिए और दो पंख है जो जरूरत के हिसाब से मुड़ जाते हैं। कार की ही तरह यह चलती है लेकिन जरूरत पड़ने पर इसमें उड़ान भी भरी जा सकती है। इस फ्लाइंग कार के टीएफ-एक्स मॉडल को उड़ान भरने के लिए रनवे की जरूरत नहीं है।
यह फ्लाइंग कार 70 मील प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकती है और हवा में इसकी स्पीड 115 मील प्रति घंटा है। इसमें 23 गैलन का फ्यूल टैंक लगा है। उड़ान भरने पर हवा में पांच गैलन फ्यूल एक घंटे में लग जाता है और सड़क पर दौड़ते हुए एक गैलन फ्यूल में 35 मील की दूरी तय की जा सकती है। सड़क पर चलते हुए यह कार आगे की पहियों पर कंट्रोल होती है। कार में सवार दोनों लोगों की सेफ्टी के लिए दो एयरबैग और हवा में जरूरत पड़ने पर पैराशूट का भी इंतजाम है जोकि दोनों सवारियों को कार सहित संभाल सकने में सक्षम है।
पिछले साल इस फ्लाइंग कार ट्रांसिशन का सफलतापूर्वक 1400 फुट की उड़ान का आठ मिनट तक परीक्षण किया गया था। इस महंगी और उड़ने वाली कार को लेने के लिए पायलट का लाइसेंस होना भी जरूरी है। साथ ही टेस्ट के साथ 20 घंटे का उड़ान का अनुभव भी जरूरी है। आने वाले समय में उम्मीद है कि इस कार से कम से कम 500 मील की दूरी भी उड़ कर तय की जा सकेगी।

No comments:

Post a comment