Sunday, 2 June 2013

विज्ञानपीडिया के पाठकों का ह्रदय से आभार

विज्ञानपीडिया.कॉम  के एक साल पूरा होने पर आप सभी मित्रों और इसके पाठकों का ह्रदय से आभार . मै पिछले कई सालों से देश के प्रमुख अखबारों के लिए लिख रहा हूँ .एक साल पहले मेरे दिमाग में आया कि आज से कई सालों बाद इन लेखों का क्या महत्व होगा ?इन्हें एक साथ ,एक जगह कैसे किया जाए जिससे लोग भी इन्हें जब-तब पढ़ सकें और उपयोग कर सके .तो दिमाग में इन विषयों पर किताब लिखने का विचार आया लेकिन ये विचार ज्यादा जमा नहीं .फिर ब्लॉग /वेबसाइट बना कर इन सब लेखों और विज्ञान सम्बंधित अच्छे कटेंट को डालने का विचार आया .हिंदी में विज्ञान के गुणवत्तापूर्ण सामग्री की बहुत कमी है ,आम आदमी ,छात्रों को उसकी भाषा में विज्ञान /तकनीक से सम्बंधित कंटेंट और अखबारों में प्रकाशित अपने विज्ञान संबंधी लेखों को एक साथ उपलब्ध कराने के उद्देश्य से विज्ञानपीडिया.कॉम की शुरुवात की . एक साल पहले मै ब्लॉग /वेबसाइट की दुनियाँ में एकदम नया था .कोई खास अनुभव भी नहीं था (अभी भी ज्यादा नहीं है ) फिर भी विज्ञान संचार की दिशा में एक कदम बढ़ाया तो रास्ता नजर आने लगा ..फिर भी  मंजिल बहुत दूर है .विज्ञानपीडिया एकदम साधारण वेबसाइट है ज्यादा डेंटिंग -पेंटिंग नहीं है ,चमकदार भी नहीं है लेकिन इसका कंटेंट  मजबूत है ..खोजपरक और विचारपरक विज्ञान लेख है ..विज्ञान की खबरों के साथ उनका विश्लेषण  करने का एक सार्थक प्रयास हुआ है ..मै इसमें कितना सफल हुआ हू मुझे नहीं पता लेकिन फिर भी इसे और अच्छा बनाने की कोशिश जारी रहेगी .इस कोशिश में आप सभी मित्रों का  सहयोग और सुझाओं  का सदैव आकांक्षी रहूँगा .आप अपने सुझाव मुझे सीधे dwivedi.shashank15@gmail.com पर मेल कर सकते है या मोबाईल न 09001433127 पर संपर्क कर सकते है 

शशांक द्विवेदी
संपादक ,विज्ञानपीडिया.कॉम
असिस्टेंट प्रोफेसर,सेंट मार्गरेट इंजीनियरिंग कॉलेज
नीमराना  राजस्थान

No comments:

Post a comment