Sunday, 21 December 2014

इसरो द्वारा प्रक्षेपित अब तक के सफल कुछ बड़े अभियान

भारत मंगल की सतह पर तो नहीं उतरा मंगलयान, लेकिन मंगल की कक्षा में प्रवेश कर इतिहास रच दिया। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन [इसरो] ने मंगलयान अभियान को कम बजट और कम संसाधनों का इस्तेमाल करते हुए यह कामयाबी हासिल की है। मंगल को मॉम मिल गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इन शब्दों के साथ देश और वैज्ञानिकों को बधाई दी। इसरो द्वारा अब तक के प्रक्षेपित कुछ सफल अभियान इस प्रकार है:-
इसरो के सफल अभियान-
1963-थुंबा से [21 नवंबर, 1963] को पहले राकेट का प्रक्षेपण
1975-पहले भारतीय उपग्रह आर्यभट्ट का [19 अप्रैल, 1975] को प्रक्षेपण
1979-एक प्रायोगिक उपग्रह भास्कर-1 का प्रक्षेपण
1980-एसएलवी-3 की सहायता से रोहिणी उपग्रह का सफलतापूर्वक कक्षा में स्थापन
1981-एप्पल नामक भूवैज्ञानिक संचार उपग्रह का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण। नवंबर में भास्कर-2 का प्रक्षेपण
1982-इन्सैट-1 का अप्रैल में प्रक्षेपण
1983-एस एल वी-3 का दूसरा प्रक्षेपण। आर एस-डी2 की कक्षा में स्थापना। इन्सैट-1बी का प्रक्षेपण
1984-भारत और सोवियत संघ द्वारा संयुक्त अंतरिक्ष अभियान में राकेश शर्मा का पहला भारतीय अंतरिक्ष यात्री बनना
1987-ए एस एल वी का-1 उपग्रह के साथ प्रक्षेपण
1988-भारत का पहला दूर संवेदी उपग्रह आईआरएस-1 का प्रक्षेपण
1990-इन्सैट-1डी का सफल प्रक्षेपण
1991-अगस्त में दूसरा दूर संवेदी उपग्रह आईआरएसएस-1बी का प्रक्षेपण
1992-एएसएलवी द्वारा तीसरा प्रक्षेपण मई महीने में। पूरी तरह स्वेदेशी तकनीक से बने उपग्रह इन्सैट-2ए का सफल प्रक्षेपण
1994-मई महीने में एसएसएलवी का चौथा सफल प्रक्षेपण
1995-दिसंबर में इन्सैट-2सी का प्रक्षेपण। तीसरे दूर संवेदी उपग्रह का सफल प्रक्षेपण।
1996-तीसरे भारतीय दूर संवेदी उपग्रह आईआरएसएस-पी3 का पी एस एल वी की सहायता से मार्च महीने में सफल प्रक्षेपण
1997-सितंबर महीने में पीएसएलवी की सहायता से भारतीय दूर संवेदी उपग्रह आई आर एस एस-1डी का सफल प्रक्षेपण
1999-इन्सैट-2ई इन्सैट-2 क्रम के आखिरी उपग्रह का फ्रांस से सफल प्रक्षेपण। भारतीय दूर संवेदी उपग्रह आई आर एस एस-पी4 श्रीहरिकोटा परिक्षण केंद्र से सफल प्रक्षेपण। पहली बार भारत से विदेशी उपग्रहों का प्रक्षेपण-दक्षिण कोरिया के किटसैट-3 और जर्मनी के डी सी आर-टूबसैट का सफल परीक्षण।
2000-इन्सैट-3बी का 22 मार्च, 2000 को सफल प्रक्षेपण
2002-जनवरी महीने में इन्सैट-3सी का सफल प्रक्षेपण। पीएसएलवी-सी4 द्वारा कल्पना-1 का सितंबर में सफल प्रक्षेपण
2004-जीएसएलवी एड्यूसैट का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण
2008-22 अक्टूबर को चन्द्रयान का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण
2013-5 नवंबर को मंगलयान का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण
2014-24 सितंबर को मंगलयान का मंगल की कक्षा में सफलतापूर्वक प्रवेश
इसरो के असफल अभियान-
-रोहिणी उपग्रह का पहले प्रायोगिक परीक्षण यान एस एल वी-3 की सहायता से प्रक्षेपण असफल
-1993-इन्सैट-2बी का जुलाई महीने में सफल प्रक्षेपण। पीएसएलवी द्वारा दूर संवेदी उपग्रह आई आर एस एस-1ई का दुर्घटनाग्रस्त होना
-1997-जून महीने में प्रक्षेपित इन्सैट-2डी का अक्टूबर महीने में खराब होना
-2001-जीएसएलवी-डी 1, का प्रक्षेपण आंशिक सफल


No comments:

Post a comment